Tag Archives: Kamal Nath government

मध्य प्रदेश: वन स्टेट-वन आइडेंटिटी, एक क्लिक से मिलेगी सारी जानकारी

मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार प्रदेशवासियों के लिए एक नया फॉर्मूला लागू करने जा रही है। इसमें प्रदेश के हर नागरिक को आधार-पैन कार्ड की तरह एक नया पहचान नंबर मिलेगा। ये नंबर एक कार्ड में दर्ज होगा साथ ही कार्ड में फोन नंबर, पता और फोटो के साथ क्यूआर कोड भी होगा। ये कार्ड नंबर एक सिस्टम में अपडेट होगा। जिस पर क्लिक करते ही संबंधित व्यक्ति का पूरा बायोडेटा खुल जाएगा। यानी वह कितनी सरकारी योजनाओं के लिए पात्र है। अब तक उसे कितनी योजनाओं में लाभ मिल रहा है। इतना ही नहीं, मूल निवास से लेकर अन्य जानकारी भी मिल सकेगी। जल्द ही योजना मूल रुप ले लेगी।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/news/one-state-one-identity-service-will-start-in-madhya-pradesh-84249

Advertisements

MP कांग्रेस में कलह : मंत्री सिंघार का दिग्गी पर हमला, सिंधिया दुखी तो अरुण भी हुए खफा

हाईलाइट

  • कमलनाथ के मंत्री ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ दिया बयान
  • अरुण यादव ने भी ट्विटर पर जताई नाराजगी
  • मध्य प्रदेश कांग्रेस में अंर्तकलह !

मध्य प्रदेश सरकार में वनमंत्री उमंग सिंघार लगातार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को लेकर बयान बाजी कर रहे हैं। पर्दे के पीछे सरकार चलाने और ट्रांसफर के बाद अब कमलनाथ के मंत्री उमंग सिंघार ने दिग्विजय पर रेत और शराब कारोबार का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, दिग्विजय एक नंबर के ब्लैकमेलर हैं। वो कौन सा धंधा नहीं करते, रेत से लेकर शराब तक के कारोबार में शामिल हैं। सिंघार ने कहा, दिग्विजय को पैसों की इतनी भूख क्यों है ? इस उम्र में उन्हें हरि नाम का भजन करना चाहिए। उन्होंने मध्य प्रदेश में अपने बेटे को सेट कर दिया है। आज उनका इंतजार कर रहा हूं। वो आ जाए तो उन्हें कड़वी चाय पिलाऊंगा, क्योंकि वो कड़वी बात करते हैं।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/kamal-naths-minister-umang-singhar-accused-digvijay-singh-of-running-the-madhya-pradesh-government-83439

इस MLA का दावा – पैसे देकर विधायकों को खरीद रही है MP की कमलनाथ सरकार

हाईलाइट

  • राज्य से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक विधायक ने कांग्रेस पर निष्ठा बदलने के लिए उसे पैसे देने का आरोप लगाया है

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार द्वारा भाजपा के दो विधायक तोड़ने के बाद भाजपा के एक विधायक ने बड़ा दावा किया है। भाजपा विधायक ने कमलनाथ सरकार विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है। राज्य की श्योपुर जिले की विजयपुर विधानसभा से भाजपा विधायक सीताराम आदिवासी ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें खरीदने की कोशिश की गई और इसके बदले उन्हें पैसे देने की पेशकश की गई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पाला बदलने के लिए मंत्री पद तक का ऑफर दिया है लेकिन वह कभी भी भाजपा नहीं छोड़ेंगे।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/madhya-pradesh-bjp-legislator-accuses-cong-of-offering-money-to-switch-party-78968

मॉब लिंचिंग पर लगेगी रोक ! कमलनाथ सरकार बनाने जा रही है ये कानून

हाईलाइट

मध्य प्रदेश में मॉब लिंचिंग पर बनेगा नया कानून
संशोधित विधेयक विधान सभा के मानसून सत्र में पेश कर पारित कराना चाहती है सरकार


गाय के नाम पर होने वाली मॉब लिंचिंग को रोकने के लिए मध्य प्रदेश सरकार सख्त कानून बनाने जा रही है। इस कानून को अमल लाने के बाद लिंचिंग घटनाओं  पर रोकथाम की जा सकेगी। दरअसल देश के अन्य राज्यों के तरह मध्य प्रदेश में भी गौरक्षा के नाम लिंचिंग की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। ऐसी स्थिति में एक सख्त कानून बनाने की दिशा में प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने कदम उठाने जा रही है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/madhya-pradesh-government-will-make-new-law-to-prevent-mob-lynching-71621

कमलनाथ सरकार का कर्मचारियों को तोहफा, मंहगाई भत्ता में किया इजाफा

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कर्मचारियों को आकर्षित करने के लिए कमलनाथ सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने लाखों कर्मचारियों को एक बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने तीन फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ाने का फैसला किया है। सोमवार को हुई कमलनाथ कैबिनेट की बैठक में कर्मचारियों और पेंशनर्स का महंगाई भत्ता 9 से बढ़ाकर 12 प्रतिशत करने की मंजूरी दे दी है। कर्मचारियों और पेंशनर्स को यह मंहगाई भत्ता 1 जनवरी 2019 से मिलेगा। सरकार के इस निर्णय से सात लाख कर्मचारियों और साढ़े चार लाख पेंशनर्स को फायदा मिलेगा। कैबिनेट की बैठक में कई अन्य महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंhttps://www.bhaskarhindi.com/news/kamalnath-govt-big-decision-increased-employee-da-three-percent-69646

मायावती खफा, कमलनाथ सरकार को समर्थन जारी रखने पर पुनर्विचार करेगी बसपा

हाईलाइट

  • मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार से समर्थन पर पुनर्विचार करेगी बसपा- मायावती
  • गुना संसदीय क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी लोकेंद्र सिंह धाकड़ के कांग्रेस में शामिल होने से नाराज

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के मतदान से पहले बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है। मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, “सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग के मामले में कांग्रेस भी बीजेपी से कम नहीं। एमपी की गुना लोकसभा सीट पर बीएसपी उम्मीदवार को कांग्रेस ने डरा-धमकाकर जबरदस्ती बैठा दिया है किन्तु बीएसपी अपने सिम्बल पर ही लड़कर इसका जवाब देगी। साथ ही बीएसपी अब कांग्रेस सरकार को समर्थन जारी रखने पर भी पुनर्विचार करेगी। वहीं इस मामले में मध्य प्रदेश बसपा विधायक दल के नेता संजीव सिंह कुशवाहा ने कहा कि बहन मायावती का जो भी आदेश होगा मध्य प्रदेश में उसका पालन किया जाएगा।


आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/bsp-will-reconsideration-the-support-of-kamal-nath-government-in-madhya-pradesh-66588

सरकार का यू-टर्न, अब गांधी प्रतिमा के सामने बैंड की धुन पर होगा वंदे मातरम

सरकार का यू-टर्न, अब गांधी प्रतिमा के सामने बैंड की धुन पर होगा वंदे मातरम
Kamal Nath government lifted the ban on Vande Mataram singing

NEWS HIGHLIGHTS

  •  वंदे मातरम पर लगी रोक हटाई गई
  •  कमलनाथ सरकार ने वापस लिया अपना फैसला
  •  अब शौर्य स्मारक से गांधी प्रतिमा तक पैदल मार्च निकालकर गाया जाएगा वंदे मातरम

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार ने वंदे मातरम गायन को लेकर यू टर्न लिया है। सरकार ने हर महीने की पहली तारीख  को मंत्रालय के सामने होने वाले वंदेमातरम् कार्यक्रम को रोक दिया था। सरकार ने गुरुवार को वंदे मातरम पर लगाई रोक को हटा दिया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि अब अरेरा हिल्स पर बने शौर्य स्मारक से महात्मा गांधी प्रतिमा तक पैदल मार्च निकाला जाएगा। जिसमें सभी अधिकारी और कर्मचारियों के साथ आम नागरिक भी शामिल होंगे। इस दौरान महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने पुलिस बैंड की धुन पर वन्दे मातरम गायन होगा। 

बता दें कि कमलनाथ सरकार द्वारा वंदे मातरम गायन पर रोक के फैसले का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने विरोध किया था। खुद पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस फैसले पर असहमति जताई थी। सीएम शिवराज ने ट्वीट उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस यह भूल गई है कि सरकारें आती हैं जाती हैं, लेकिन देश और देशभक्ति से ऊपर कुछ नहीं है। मैं मांग करता हूं कि वंदे मातरम का गाना हमेशा की तरह हर कैबिनेट की मीटिंग से पहले और हर महीने की पहली तारीख को हमेशा की तरफ वल्लभ भवन के प्रांगण में हो। 

कमलनाथ के इस निर्णय बीजेपी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी घेरना शुरू कर दिया था। मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार की तरफ से राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ पर प्रतिबंध लगाने को दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक करार देते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सवाल किया कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी बताएं कि ‘वंदे मातरम्’ के इस अपमान का निर्णय क्या उनका है? मध्यप्रदेश सरकार के इस दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय पर राहुल गांधी को देश की जनता के सामने अपना पक्ष स्पष्ट करना चाहिए.”


Source: Bhaskarhindi.com