Category Archives: Religion News

Religion News

सावन सोमवार: इस व्रत को करने से मिलते हैं ये लाभ, जानें व्रत एवं पूजा विधि

हिन्दू धर्म में सावन माह का अत्यधिक महत्व है, वहीं सावन सोमवार का महत्व इससे भी ज्यादा। देवों के देव महादेव शिव शंकर की पूजा के लिए सावन माह के सोमवार को खास माना जाता है। इन दिनों में भगवान शिव को विधि विधान से पूजा कर प्रसन्न करने का शुभ असवर होता है। इस बार श्रावण मास में चार सोमवार पड़ रहे हैं, जिसे शुभ माना जा रहा है। वहीं इस बार शिवरात्रि भी 30 जुलाई को है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/these-benefits-are-met-by-doing-sawan-monday-fast-learn-worship-73658

Advertisements

इस दिन से शुरू हो रहा है सावन माह, शिव की आराधना से मनोकामनाएं होंगी पूरी

हिन्दू धर्म में सावन के महीने को बेहद खास माना जाता है, इस माह को श्रावण मास के नाम से भी जाना जाता है। बता दें कि यह माह देवों के देव महादेव को समर्पित होता है। ये महीना भगवान शिव के ध्यान और पूजा पाठ के लिए सबसे उपयुक्त माना गया है। शिव पुराण के अनुसार सावन माह में आने वाले सोमवार को जो भक्त उपवास रखता है, शंकर भगवान उसकी मनोकामनाएं जरूर पूरी करते हैं। इस साल सावन माह की शुरुआत 17 जुलाई से होने वाली है, वहीं 15 अगस्त सावन महीने का आखिरी दिन होगा। आइए जानते हें इस माह से जुड़ी कुछ खास बातें…

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/sawan-month-is-special-for-shiva-worship-know-worship-method-72861

श्री जगन्नाथ रथ यात्रा: अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ के दरबार पहुंचे अमित शाह

Amit Shah arrives in the court of Lord Jagannath in Ahmedabad

उड़ीसा के पुरी में आज भगवान भगवान श्री जगन्नाथ की रथ यात्रा धूमधाम से निकाली जाएगी। भगवान जगन्‍नाथ को रीति रिवाजों के साथ पुरी में रथ पर सवार किया जाएगा। वहीं अहमदाबाद में भी आज धूमधाम और पूरे रीति रिवाज के साथ भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा निकली है। यहां इस बार 17 किलोमीटर लंबी रथ यात्रा निकाली जा रही है।  इस बार की रथयात्रा में भगवान के मार्ग में एक लाख साड़ियां बिछाई जा रही हैं। ये साड़ियां मंदिर आने वाले नवदंपतियों को भेंट की जाएगी।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/amit-shah-arrives-in-the-court-of-lord-jagannath-in-ahmedabad-72214

पुरी में आज निकलेगी भगवान श्री जगन्नाथ की भव्य रथ यात्रा, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

Lord Jagannath’s grand chariot journey will be out today in Puri

उड़ीसा की तीर्थ नगरी पुरी में भगवान भगवान श्री जगन्नाथ, बलभद्र और देवी सुभद्रा की रथ यात्रा आज शुरू होने जा रही है। इसकी सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। आषाढ़ शुक्ल द्वितीया तिथि को कर्क राशि में आने वाले पुष्य नक्षत्र में यह यात्रा निकलेगी, जिसमें करीब 10 लाख श्रद्धालुओं के हिस्सा लेने की संभावना है। माना जाता है कि जगन्नाथ रथयात्रा में रथ को खींचने से जीवात्मा को मुक्ति मिल सकती है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/lord-jagannaths-grand-chariot-journey-will-be-out-today-in-puri-72208

साल का पहला सूर्य ग्रहण खत्म, दुनिया के कई देशों में दिखाई दिया खूबसूरत नजारा

इस साल का पहला पूर्ण सूर्य ग्रहण खत्म हो चुका है। चिली, अर्जेंटीना और ब्राजील के कुछ हिस्सों में इस खगोलीय घटना को देखा गया। पूर्ण सूर्य ग्रहण के दौरान दिन में रात की जैसा नजारा दिखाई दिया और सूर्य किसी छल्ले की तरह नजर आया। हालांकि भारत में सूर्य ग्रहण के समय रात होने के चलते इसे नहीं देखा जा सका। दुनिया के ​कई हिस्सों से मी​डिया के जरिए इसकी कुछ तस्वीरें सामने आई हैं, जिनमें सूर्य को सफ तौर पर देखा जा सकता है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/beautiful-view-of-1st-full-sun-eclipse-appeared-in-many-countries-72110

विवादों को दूर कर संबंधों में मधुरता लाएंगे 12 भावों के ये उपाय, जानें इनके बारे में

आजकल जहां देखो वहीं छोटी छाटी बातों पर टकराव और विवाद नजर आते हैं। फिर चाहे स्थान आपका घर हो, ऑफिस या फिर व्यापारिक क्षेत्र, कारण मतभिन्नता हैं। जिसके चलते सास बहू के बीच खींचा तानी, पति पत्नी में बहस , पिता पुत्र का झगड़ा और चाहे बॉस एम्प्लौयी के बीच झड़प होती है। कई बार इन समस्याओं से परेशान होकर लोक रत्न धारण कर लेते हैं, लेकिन सिर्फ रत्न पहनने से या कोई जप करने मात्र से वे संबंध नही सुधर सकते।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/these-measure-of-12-expressions-will-bring-sweetness-in-relations-72028

साल का दूसरा सूर्य ग्रहण आज, जानें ग्रहण का समय और असर

साल की शुरुआत के साथ ही 5-6 जनवरी को सूर्य ग्रहण पड़ा और अब 6 महीने बीत जाने के बाद साल का दूसरा सूर्य ग्रहण आषाढ़ मास की अमावस्या तिथि यानी 2 और 3 जुलाई की मध्यरात्रि में लगने जा रहा है। साल के पहले और दूसरे सूर्यग्रहण में अंतर इतना कि पहले दुनिया ने एक आंशिक सूर्य ग्रहण को देखा गया था और इस बार पूर्ण सूर्य ग्रहण होने जा रहा है, जिसका मतलब कि दिन में ही रात जैसा नजारा।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें – https://www.bhaskarhindi.com/news/second-solar-eclipse-of-the-year-know-eclipse-time-effect-72019