Category Archives: Religion News

Religion News

Sankashti Chaturthi: importance increases due to Wednesday, know worship method

Sankashti Chaturthi: बुधवार होने से बढ़ा संकष्टी चतुर्थी का महत्व, जानें पूजा विधि

प्रथम पूज्य श्री गणेश की पूजा से सभी कार्य निर्विघ्न संपन्न होते हैं। वैसे तो हर पूजा के पहले गणेश जी की पूजा होती है, लेकिन प्रत्येक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को गणेश चतुर्थी का व्रत किया जाता है। शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी के नाम से जाना जाता है और कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहा जाता है। संकष्टी चतुर्थी को सभी कष्टों का हरण करने वाला माना गया है, जो कि आज 08 जुलाई को है। बुधवार होने से इस दिन का महत्व और भी बढ़ गया है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/dharm/news/sankashti-chaturthi-importance-increases-due-to-wednesday-know-worship-method-142343

सूर्य ग्रहण LIVE : 900 साल बाद आसमान में दिखा अद्भुत नजारा, कई राज्यों में छाया अंधेरा

साल के सबसे बड़े दिन आज यानी 21 जून को सूर्य ग्रहण लगना शुरू हो गया है। 25 साल बाद ये पहला मौका है जब वलायाकार यानी अंगूठी की तरह दिखने वाला ग्रहण लगा है। रविवार के दिन ग्रहण लगने की वजह से इसे चूणामणि ग्रहण कहा जा रहा है। यह एक कंकणाकृति खण्डग्रास सूर्य ग्रहण होगा, जो 900 साल बाद लग रहा है। आज से 900 साल पहले इस तरह का नजारा आसमान में दिखाई दिया था। इस ग्रहण में चंद्रमा सूर्य का करीब 98.8% भाग ढक देगा। ज्योतिष के मुताबिक यह इस साल का सबसे लंबा सूर्य ग्रहण होगा, जो करीब 6 घंटे का होगा।

 आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/dharm/news/solar-eclipse-2020-know-when-and-where-the-eclipse-will-be-seen-137910

Chandra Grahan 2020: साल 2020 का दूसरा आंशिक चंद्र ग्रहण आज, जानें समय और प्रभाव

चंद्र या सूर्यग्रहण का हिन्दू धर्म में काफी महत्व है। वैज्ञानिक रूप से ये जितना महत्वपूर्ण माना गया है उतना ही महत्वपूर्ण ये धार्मिक व ज्योतिषीय दृष्टि से भी है। आज 05 जून 2020, शुक्रवार को साल 2020 का दूसरा चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। हालांकि यह एक आंशिक उपच्छाया चंद्रग्रहण होगा। ये ग्रहण भारत, यूरोप, अफ्रीका, एशिया और ऑस्ट्रेलिया में दिखाई देगा। उपच्छाया चंद्र ग्रहण होने के कारण सूतक काल का प्रभाव कम रहेगा।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/dharm/news/chandra-grahan-2020-today-second-partial-lunar-eclipse-of-2020-learn-time-impact-134424

Mahesh Navami 2020: know why Mahesh Navami is celebrated, how to worship

महेश नवमी 2020: जानें क्यों मनाई जाती है महेश नवमी, कैसे करें पूजा

हर साल ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को महेश नवमी मनाई जाती है। इस वर्ष महेश नवमी 31 मई को है। मान्यता है कि माहेश्वरी समाज की उत्पत्ति युधिष्ठिर संवत के ज्येष्ठ माह शुक्ल पक्ष नवमी को हुई थी, तभी से माहेश्वरी समाज प्रतिवर्ष की ज्येष्ठ माह शुक्ल पक्ष नवमी को ‘महेश नवमी’ के नाम से माहेश्वरी वंशोत्पत्ति दिन के रूप में बहुत धूम-धाम से मनाता है। इस दिन भगवान शिव और मां पार्वती की विशेष आराधना की जाती है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/dharm/news/mahesh-navami-2020-know-why-mahesh-navami-is-celebrated-how-to-worship-131493

उत्तराखंड: ब्रह्म मुहूर्त में खुले भगवान बद्रीनाथ धाम के कपाट, पीएम मोदी के नाम से हुई पहली पूजा

हाईलाइट

  •  लॉकडाउन के बीच खुले बद्रीनाथ धाम के कपाट
  •  मुख्य पुजारी, धर्माधिकारी समेत 28 लोग शामिल हुए

उत्तराखंड के बद्रीनाथ धाम के कपाट आज (शुक्रवार) ब्रह्म मुहूर्त में तड़ते साढ़े चार बजे खोल दिए गए। कोरोनावायरस के कारण इस कम लोग ही मंदिर में आए। बद्रीनाथ धाम के मुख्य पुजारी, धर्माधिकारी समेत 28 लोग शामिल हुए। पहली पूजा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से हुई। हर साल की तरह इस वर्ष भी मंदिर को फूलों से भव्य तरीके से सजाया गया। वेद मंत्रों के पाठ के साथ भगवान बद्री विशाल के गर्भ गृह के द्वार खोले गए।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंhttps://www.bhaskarhindi.com/dharm/news/uttarakhand-portals-of-badrinath-temple-opened-today-28-people-was-present-129405