Category Archives: ajab gajab

Ajab Gajab

अजब-गजब: इस रहस्मयी शहर को कहते हैं ‘प्लेस ऑफ गॉड’, जानें क्या है वजह

दुनिया कई ऐसे रहस्यों से भरी पड़ी हैं, जिन्हें आज तक कोई नहीं सुलझा पाया। ऐसा भी नहीं है कि, इन उलझी हुई गुत्थियों को सुलझाने की किसी ने कोशिश न की हो। दरअसल वैज्ञानिक या शोधकर्ता जितनी बार भी इन रहस्यों के पीछे का सच जानने की कोशिश करते हैं, वो उतना ही उलझ जाते। आज हम आपको ऐसा ही एक रहस्यमयी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं। दरअसल यह जगह मेक्सिको में स्थित है। इस जगह को ‘प्लेस ऑफ गॉड’ यानी ‘भगवान की जगह’ कहा जाता है। ये जगह सच में बहुत ही दिलचस्प है। इस जगह को टियाटिहुआकन शहर के नाम से भी जाना जाता है। ये शहर पिरामिडों का एक खंडहर है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/ajab-gajab/news/the-place-in-mexico-which-is-called-place-of-god-teotihuacan-131426

अजब-गजब: अमेरिका के इस एक गांव में रहती है सिर्फ एक महिला, जानें क्या है वजह

आप जानते ही होंगे के गांवों की आबादी शहरों की तुलना में कम ही होती है, लेकिन आपने यह कभी नहीं सुना होगा के एक गांव में सिर्फ एक नागरिक ही रहता है। जी हां सुनने में भले ही अजीब लग रहा हो, लेकिन अमेरिका के नेब्रास्का राज्य में एक गांव ऐसा है, जहां सिर्फ एक महिला ही रहती है। इस गांव का नाम मोनोवी है, जहां एल्सी आइलर नाम की एक बुजुर्ग महिला रहती हैं। 

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/ajab-gajab/news/nebraska-state-of-america-had-a-tiny-town-monowi-with-a-population-of-one-where-elsie-eiler-live-128907

वो तीन रहस्य, जिन्हें आज तक कोई भी सुलझाने में सफल नहीं हो सका

हम जिस दुनिया में रह रहे हैं, वह दुनियां कई अद्भुत रहस्यों से भरी पड़ी है। दुनिया में कई रहस्यमयी चीजें हैं, जिनका जवाब आज तक वैज्ञानिकों के पास भी नहीं है। आइए आज हम आपको दुनिया के ऐसे तीन रहस्य बताते हैं, जिन्हें आज तक सुलझाने में कोई भी सफल नहीं हो सका।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/ajab-gajab/news/the-3-mysteries-which-nobody-has-been-able-to-solve-till-date-103199

मिस्र: 5000 वर्ग किमी में जंगल उगाने का लक्ष्य, सीवेज वॉटर का हो रहा इस्तेमाल

हाईलाइट

  •  रीसाइकिल करके रेगिस्तान में छिड़का जा रहा है
  •  इस प्रोजेक्ट के लिए रिसर्च टीम भी काम कर रही है
  •  जंगल बसाने के लिए सीवेज वॉटर का अहम योगदान होता है

मिस्र (इजिप्ट) सरकार अपने यहां 5,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में जंगल उगा रही है। पौधों के लिए बहुत बड़ी मात्रा में सीवेज का पानी रीसाइकिल करके रेगिस्तान में छिड़का जा रहा है। आने वाले कुछ समय बाद यहां लाखों पेड़-पौधे नजर आ सकते हैं। छात्र ड्रिप सिंचाई तकनीक से सहारा के रेगिस्तान में पौधे रोप रहे हैं। इस देश का 96 फीसदी भू-भाग रेतीला है और यहां बारिश भी बहुत कम होती है।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंhttps://www.bhaskarhindi.com/news/egypt-sewage-water-being-used-in-target-to-grow-forest-in-5000-sq-km-101197

कर्नाटक का यह गांव है प्रवासी पक्षियों का मायका, बच्चों का रिश्ता करने से पहले लाेग देखते हैं घर में घोंसला है या नहीं

बेंगलुरु से करीब सवा सौ किमी दूर मांडया जिले में एक गांव है कोक्केरबेल्लुर। गांव इन दिनों अपनी बेटियों और नाती-नातिनों की देखभाल में व्यस्त है। खास बात यह है कि उनकी बेटियां प्रवासी पक्षी हैं। दो हजार की आबादी वाले गांव के लोग पेंटेड स्टॉर्क और पेलिकन पक्षियों काे बेटी मानते हैं। जैसे बच्चे की जन्म के लिए बेटियाें के मायके आने की परंपरा है, वैसे ही यह पक्षी यहां आते हैं।

आगे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
https://www.bhaskarhindi.com/news/in-this-village-of-karnataka-migrant-birds-before-seeing-the-relationship-of-children-see-if-there-is-a-nest-in-the-house-99925